अम्बेडकरनगर में बेटियों ने मनवाया लोहा,देखिए हैरान कर देने वाला वीडियो

आर्यकन्या इंटर कालेज में आयोजित 126वें वार्षिक पर आर्य वीरांगना दल की बेटियों ने अपने शौर्य का जबरदस्त प्रदर्शन किया।

0 28

अम्बेडकरनगर–प्रधानमंत्री के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान को अम्बेडकर नगर जिले में आर्यसमाज द्वारा संचालित एक विद्यालय में बेटियों को शिक्षा के साथ-साथ असामाजिक तत्वों से सुरक्षा और आत्मरक्षा के ऐसे-ऐसे गुर सिखाए जा रहे हैं, जिन्हें देखकर लोग हैरान हो जाते हैं। टांडा के मिश्रीलाल आर्यकन्या इंटर कालेज में आयोजित 126वें वार्षिक समारोह में आर्य वीरांगना दल की बेटियों ने अपने शौर्य का जबरदस्त प्रदर्शन किया।

समाज मे फैली कुरीतियों और अराजकता के कारण आएदिन महिलाओं औरबेटियों के साथ तरह तरह की घटनाएं होती रहती हैं, जिनसे बचाने के लिएसरकार तरह तरह के उपाय तो कर रही है, लेकिन इसके बाद भी महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों में पूरी तरह रोकथाम नही लग पा रहा है। ऐसे में टांडा के मिश्रीलाल आर्यकन्या में बेटियों के लिए बनाई गई आर्य वीरांगना दल की तरफ से बेटियों के आत्म रक्षा और समाज व देश की रक्षा के ऐसे ऐसे करतब
सिखाये गए हैं, जिसे देखकर लोग हैरान रह जाते हैं।

Related News
1 of 114

आर्य समाज के समारोह में इन बेटियों ने शारीरिक व्यायाम और योग के साथ साथ जुडो, कराटे, ताइक्वांडो, लाठी, भाला और तलवारबाजी का जबरदस्त प्रदर्शन किया। इसके अलावा इन बेटियों को प्रारंभिक तौर पर ससैन्य ट्रेनिंग और खतरों से खेलने का हुनर भी सिखाया जा रहा है। कालेज की प्रधानाचार्य प्रशिषा श्रीवास्तव ने बताया कि समाज मे नारी को कमजोर समझने की भूल अब कोई न करे क्योंकि आजशिक्षा के साथ साथ हर क्षेत्र में ये बेटियां पुरुषों से आगे बढ़ कर कार्य  कर रही हैं। उन्होंने कहाकि जिस तरह से उनके विद्यालय में बेटियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है, अगर सभी विद्यालय ऐसे ही प्रशिक्षण देने लगे तो कोई भी बेटियों के साथ किसी तरह का अत्याचार या अपराध करने की हिम्मत नही करेगा।

वहीं वर्ल्ड काउंसिल ऑफ आर्यसमाज के अध्यक्ष स्वामी आर्यवेश जी भी आर्यसमाज के इस समारोह में बतौर मुख्यअतिथि मौजूद रहे। उन्होंने बेटियों की शौर्य दक्षता को देखकर प्रशन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहाकि जिस तरह
से इन बेटियों को जुडो कराटे के साथ साथ लाठी चलाना और तलवार चलाना सिखाया जा रहा है, उससे वे मानते हैं कि अब जब समाज बेटियों के प्रति ज्यादा संवेदनशील है, ऐसे में आत्म रक्षा के लिए यह प्रयास बेटियों को और
ताकत देगा। उन्होंने कहाकि महिला सशक्तिकरण के लिए जो कार्य केंद्र सरकार कर रही है, उससे यह बात तो साफ हो गया है कि हमारे देश मे लडकिया किसी भी क्षेत्र में पीछे नही हैं। आज बीएसएफ में भर्ती होकर देश की बेटियां सीमा की सुरक्षा तक कर रही हैं।

(रिपोर्ट-कार्तिकेय द्विवेदी,अंबेडकरनगर)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...
नई खबर पढ़ने के लिए अपना ईमेल रजिस्टर करे !
आप कभी भी इस सेवा को बंद कर सकते है |

 

 

शहर  चुने 

Lucknow
अन्य शहर